रामदेव को जोर का झटका, बालकृष्ण अरेस्ट.

 

 

देहरादून।

रामदेव को जोर का झटका, बालकृष्ण अरेस्ट.

फर्जी दस्तावेज के जरिए पासपोर्ट हासिल करने के मामले में योग गुरु स्वामी रामदेव के नजदीकी आचार्य बालकृष्ण को गिरफ्तार कर लिया गया है। देहरादून के सीबीआई स्पेशल कोर्ट ने पेश न होने पर उनके खिलाफ शुक्रवार को गैरजमानती वॉरंट जारी किया था। वॉरंट जारी होने के कुछ देर बाद ही सीबीआई टीम ने हरिद्वार पहुंचकर बालकृष्ण को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि, पहले ही स्थानीय पुलिस उन्हें हिरासत में ले चुकी थी।

9 अगस्त से दिल्ली में ब्लैक मनी वापस लाने को लेकर आक्रामक आंदोलन चलाने की घोषणा कर चुके रामदेव को अपने सबसे करीबी बालकृष्ण की गिरफ्तारी से बड़ा झटका लगा है। बताया जा रहा है कि बालकृष्ण को यह उम्मीद नहीं थी कि उनके खिलाफ इतनी तेजी से कार्रवाई होगी। सुबह उनके वकील ने बताया था कि वह कोर्ट में ऐप्लिकेशन दायर कर बालकृष्ण के न पेश हो पाने की वजह बताएंगे, जिससे तारीख बढ़ाई जा सके।

इस मामले में सीबीआई 10 जुलाई को ही आचार्य बालकृष्ण के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर चुकी है। इसमें बालकृष्ण को पासपोर्ट अधिनियम के अलावा धोखाधड़ी की धाराओं में भी आरोपी बनाया गया है। बालकृष्ण के अलावा खुर्जा संस्कृत कॉलेज के प्रिंसिपल नरेश चंद्र द्विवेदी को भी आरोपी बनाया गया है। सीबीआई ने आरोप लगाया है कि नरेश चंद्र अरसे से फर्जी मार्कशीट का धंधा करते रहे है। आरोपों के मुताबिक, बालकृष्ण को आचार्य की फर्जी डिग्री दिलवाने में इन्हीं की भूमिका है।

0 Shares

You must be logged in to post a comment Login